कल की  ही तो बात है , जब गुड़िया अपने घर में सबकी लाड़ली बहु बन कर अपने ससुराल में आई थी। अभी शादी को वक्त ही कितना हुआ है ,सिर्फ  २ महीने और देखो ये वही गुड़िया हैं जो घर के सारे काम सिख गई है। सही कह रही हो काकी , अपने घर में तो ये एक गिलास पानी भी खुद नहीं पीती  थी वो भी लाकर देना पड़ता था। बेटा ससुराल में आकर सब करना पड़ता है। 
हां और अब ये वो पेन ,पेन्सिल और रंग लेकर  हर किसी फोटो भी नही बनाने लगती  है। सयानी हो गई हैं हमारी गुड़िया। 
girl doing painting
 गुड़िया से शायद किसी ने नहीं पूछा के इस सयानेपन  के लिए उसने अपने उस सपने को कही छुपा दिया है जो उसे सबसे प्यारा था। जिसके लिए उसे सब घर में कहा करते थे के एक दिन गुड़िया बहुत बड़ी चित्र्कार  बनेगी। 
 
C.J
Categories: Stories

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Posts

Stories

कुछ किताबे तुम जैसी है

कुछ किताबे तुम जैसी है । पुरी होने पर भी अधुरी सी है । उनके हर पन्ने पर एक निशान बनाया है मैंने और ये निशान तुम्हारे साथ बिताये लम्हो की यादे है । किताब Read more…

Stories

दोस्त से ज्यादा, पर गर्लफ्रेंड,बायफ्रेंड से कम

कहाँनीया कब और कहा बन जाये हम कह नही सकते, पर एक ऐसी जगह है जहा हर रोज़ , हर पल एक कहाँनी जन्म लेती है । ये जगह शायद इसिलिये ही बनी है और Read more…

Stories

आखरी गलती

  राजीव ने अपने पेन को ऊठाकर अंगूठे और उसके पास वाली उंगली से घुमाने लगा . इस तरह पेन को घुमाने की  कला हर कॉलेज़ जाने वाला स्टूडेंट को कक्षा 12वी से ही आ Read more…