तिरभिन्नाट पोहा-पप्पू भिया का लैपटाप

“ हैलो……. कौन “ अबे बारीक मैं बोल रिया हू । “ अरे वाह यार भिया गजब कर रीये हो , इधर से भी तो मैं ही बोल रिया हू ” । “ अबे ओ पंचर , मैं पप्पू बोल रिया हू रितिक “। “ अरे यार वो क्या है नी कल वो एक फिलम देखी तो उसी का डायलाग चिपका दिया, क्या आपकी आवाज़ नी पेचानेंगे क्या यार “। “  चल अब बत्ती मत दे, एक दम फटाफट से मेरे कने आजा “। “  क्यू यार भिया क्या हो गिया “। “ अरे तू आये नी यार और मैंने वो छोटू, उमेश ने टीनू को भी बोल दिया है वो भी आ रीये है “। “  हओ भिया बस अभी आया,  नी-नी करके पांच मिनिट मे पोच जाउंगा “।

टीनू,उमेश,छोटू और रितिक चारो पप्पू भिया के यहा पहुच गये । उन्होने देखा के पप्पू भिया अपने लैपटाप को घूरे जा रे थे । रितिक –“ पप्पू भिया क्या देख रे हो इस लैपटाप मे क्या कोई नयी फोटू आयी क्या ऐश की “। उमेश –“ ऐसा क्या भिया , दिखाना जरा “। उमेश ने लैपटाप देखा  और बाकी सब से कहा –“ पप्पू भिया हम पर शक कर रिये यार “। टीनू – “ कई वीयो तू असो काय वास्ते कई रीयो है “। उमेश – “ पप्पू भिया ने लैपटाप पर ताला लगा रखा है, ताकी हम ऐश भाभी को देख नी सके “। रितिक- “ पर यार तुम मानो नी मानो , भिया का लव जोरदार है , ऐश भाभी एक बच्चे की मॉ बन गी , पर भिया आज भी उसे अभिषेक से ज्यादा चाते है “।

ransomeware

 पप्पू- “ अबे ओ गेलियो चुप करो , कोई फोटू नी आया है और ये ताला मैने नी लगाया है “। उमेश-“ फिर भिया ये क्या हो गया “। पप्पू – “ पता नी यार , सुबह जैसे ही अपन ने लैपटाप खोला तो ये ताला मिला ,मैंने पूरे घर मे ढूढ लिया पर साला चाबी नी मिली यार , मेरे को लग के अपन दिनभर इसको रांदते है इसिलिये अम्मा ने लगा दिया होगा ताला “ । टीनू- “ भिया अम्मा से पूच लो “। पप्पू – “ अरे पुछा था “। रितिक- “ तो क्या हुआ फिर “। पप्पू भिया ने एक रख के दिया रितिक को और कहा –“ ये हुआ “। रितिक- “देखो भिया ये जो लिखा है – Ransomeware, इसमे भिया Ran का मिनिंग तो दौडना होता है , some का मिनिंग तो कुछ होता है , अब ये अगला समझ नी आ रिया है “ । उमेश- “भिया एक मिनिट रुको मैं जरा गुगुल चलाता हू, ये को मिनिंग देखता हू “। टीनू- “ अबे वणे गुगल केते  है रे गेलिया “। उमेश ने सर्च लिया- “ भिया देखो ये जो ware लिखा है , इसका मिनिंग है – सामान “ । टीनू- “ तो इसका मतलब ये हुआ भिया के दौडतेकुछसामान “। उमेश- “ भिया मेरे को लगे वो दुसरे धरती के जीव है नी वो फिलम मे थे जो – जादू, वो तुमसे कुछ केना चा रिये है “।

 पप्पू भिया ने उमेश से मोबाइल लिया ने खुद सर्च किया वो भी पूरा लेटर एक साथ – “  अरे वो तुम लोग बस दिन मे दो बार पोहे खाओगे तो ये ही होगा, गेलियो ये तो कीडा लग गया वो अंग्रेजी मे जिसको वाईरस केते है नी वो और ये फिरोती वाईरस है “ रितिक- “ भिया इसको नी अपने राकेश भिया की दुकान पर ले चलो वो करते ये सब काम “।

राकेश भिया की दुकान पर ,पप्पू – “ भिया यार देखना ये कोई वाईरस ने ताला मार दिया है यार लैपटाप पर ने फिर चाबी भी नी दे रिया है “। उमेश- “ हा भिया दिमाग खराब हो रिया है यार “। राकेश ने देखते ही कहा –“ भिया एक मिनिट “, फिर उसने तबांकू थूका और कहा –“  भिया ये वायरस आया है नी इसने तुम्हारी सारी फाईल लाक कर दी है और अब तुम्हे अगर चाहीये तो 300 बिट्काईन मांग रिया है “ रितिक जोर से हसा और कहा –“ क्या गेलिया वाईरस है , इतनी मगज़मारी तीनसो सिक्के के लिये “ उमेश- “  भिया ऐसा लगे इसके घर मे शादी है और खुल्ले पैसे देने मे बैंक वाले ऐबलेपनती कर रिये होंगे तो इसने तुमसे मांग लिये “। राकेश- “  अरे वो लफ्नदरो , पगला गये हो क्या ,पप्पू भिया तुम भी कहा इनके साथ घुमते हो “। पप्पू ने घूर के सबको देखा ।

राकेश- “ भिया यार ये जो है नी बहुत बडा वाइरस है और 1 बिटकाईन मतलब अपने यहा के – 133621 रुपेये है और अब अगर तम्हे अपना डेटा चिये तो 300 बिटकाईन देने पडेंगे “  पप्पू भिया को पसीने आने लगे । रितिक – “ भिया, अभी हा के दो फिर ये पैसे लेने आयेंगा तो इसे घेर लेंगे और चाबी ले लेंगे “। राकेश- “ अबे ऐ फर्जी ये पैसा आनलाईन देना पडेंगा और पप्पू भिया तुम बताओ कल रात को क्या चला रिये थे इसमे “। पप्पू – “ अरे राकेश भिया वो तुम्हारी ऐश भाभी का मेल आया था ने उसमे लिखा था “ आई लव यू “ और साथ मे एक लेटर  भी था, अब अपन ने वो डाउनलोड किया ने फिर अचानक से अम्मा आ गई तो बस फटाफ़ट से लैपटाप बंद कर दिया ने सुबह देखा तो ये लफडा हुआ “। राकेश जोर से हसा और कहा भिया तुम्हारा डेटा मैं ला दूंगा इसे बाहर भेजना होयेगा और 5 हजार खर्चा आयेगा “। पप्पू – “ कम मे नी होगा, देख लो “। राकेश –“  200 रुपये मे भी कर दुंगा फिर डाटा नी मिलेगा “। पप्पू ने भरे मन से कहा – “  चलो कर दो यार भिया , अब ऐश की फोटू मेरे दिल मे भी है उसीसे काम चला लूंगा “। रितिक –“  अरे उदास मत हो  भिया चलो मैं ला दुंगा ना तुमको भाभी की फोटू “ । पप्पू- “ अबे तेरे पास क्यो है ऐश की फोटू , भाभी पे लाईन मारता है “ रितिक- “अरे यार भिया क्या बात करा दी ,वो सारी फोटू तुम्हारे साथ है जो हमने बनवाई थी, चलो अब पोहे जलेबी खिलाओ” । सब लोग चले गये फिर पोहे खाने राजबाडे पर ।

तो भिया ये थे हमारे पप्पू भिया, कमेंट करना और बताना कैसा लगा इस बार का “तिरभिन्नाट पोहा” और हा फेसबूक ने और जगह लाईक और कमेंट देते रेना , चलो मिलते है फिर भिया ।

 

बाकी की तिरभिन्नाट पोस्ट पढने के लिये नीचे दी हुई लिंक पर क्लिक करो भिया

तिरभिन्नाट पोहा-इसके बिना जिंदगी खत्म भिया

तिरभिन्नाट पोहा-पप्पू भिया का रिजाईन

Written by

4 comments / Add your comment below

Leave a Reply