Short Stories |Short Stories In Hindi | Short Stories For Kids | Short Stories With Moral  

 

वो हर रोज की तरह फिर घर से निकल पडा,एक फाईल मे अपने मेहनत के पसीने से सिंच कर उगाये उन कागज़ के टुकडो को जिन पर उसे बहुत नाज़ था.
जैसे ही वो आफिस के बाहर चाय पीने के लिये रुका …उसके सुना ” हा तुम बस इंटरविव दे दो बाकी मे सम्भाल लूंगा और फर्जी डिग्री मेरे पास है अभी आयी है.बस ध्यान रहे बॉस को 25 देना है.”

short stories

कुछ देर उसने सोचा और फिर जला दिये वो सारे कागज़ जिन पर उसे गुमान था.

अचानक से आवाज़ आई ” मै आई कम ईन सर “

वो अपने ख्यालो से बाहर आया और देखा एक लडका खडा है.

उसने कहा ” कम ईन यंग मैंन “

और बाहर निकलने पर उस लडके से एक और लडके ने कहा ” भाई क्या भाव है सिलेक्शन का “
उसने कहा ” बेइंतेहा मेहनत “

-चिराग जोशी.

Categories: Stories

4 Comments

chirag · 20/01/2015 at 3:37 am

thank you

chirag · 20/01/2015 at 3:37 am

thanks vinisha

vinisha · 20/01/2015 at 3:37 am

Good one 🙂

yogi saraswat · 20/01/2015 at 3:37 am

सही कहा , बेइंतहा मेहनत

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *